नियमित अध्यापक की नियुक्ति न होने से इस प्राथमिक स्कूल में पढ़ने वाले 27 बच्चों को शिक्षा ग्रहण करने में परेशानी का करना पड़ रहा सामना
डेपुटेशन पर अलग-अलग अध्यापक आने से बच्चों की पढ़ाई होती जा रही है डामाडोल

समाचार दृष्टि ब्यूरो/सराहां

शिक्षा खण्ड सराहां के अंतर्गत आने वाले प्राथमिक पाठशाला रजालग में पढाई कर रहे 27 बच्चों का भविष्य अधर में लटका नजर आ रहा है। वजह स्कुल में कोई भी नियमित अध्यापक ना होने के कारण इस स्कूल को डेपुटेशन के सहारे चलाया जा रहा है।

बत दें कि इस प्राथमिक स्कूल में पढ़ने वाले 27 बच्चों को शिक्षा ग्रहण करने में परेशानी का सामना इस लिए करना पड़ रहा है कि हर रोज यहां नया
अध्यापक डेपूटेशन पर आ रहा है। जिससे सही से पढाई कर पाना इन 27 बच्चों के लिए मुश्किलें कड़ी कर रहा है। एक तरफ सरकार शिक्षा के लिए लिए बड़े बड़े दावे कर रही है वहीँ दूसरी और स्कुल में एक भी अध्यापक न होने से बच्चो कि पढाई में विपरीत असर पद रहा है।

एसएमसी प्संरधान संजीव शर्मा ने बताया कि इस स्कुल में कार्यरत एक ही अध्यापक था जिसका यहाँ से तबादला हो चूका है। परन्तु उसके बाद यहाँ अभी तक किसी भी अध्यापक ने ज्वाइन नही किया है जिस कारण विभाग द्वारा इस स्कुल को डेपुटेशन पर चलाया जा रहा है। एसएमसी प्रधान संजीव शर्मा, सचिव सोनिका, सदस्य किशन दत्त, श्रोता देवी, लाजवंती देवी तथा मीरा ने बताया कि स्कूल में डेपुटेशन पर अलग-अलग अध्यापक आ रहे हैं जिससे बच्चों की पढ़ाई भी बाधित हो रही है।

उन्होंने सरकार से मांग करते हुए कहा कि हाल ही में जो नए अध्यापकों की नियुक्तियां होनी है उनमें से किसी अध्यापक के नियमित आदेश इस स्कूल के लिए किए जाएं ताकि स्कूल में पढ़ने वाले बच्चों को अच्छी गुणवत्ता वाली शिक्षा मिल सके।

उधर प्राथमिक शिक्षा खंड अधिकारी सराहां राजेश शर्मा ने बताया कि करीब 15 दिन पहले स्कूल में कार्यरत अध्यापक का तबादला हुआ है।उन्होंने कहा कि स्कूल के लिए भी हाल ही में अध्यापक के तबादला आदेश आए हैं लेकिन उन्होंने अभी तक वहां ज्वाइन नही किया है। जब तक वह अध्यापक इस स्कूल में अपने पद पर ज्वाइन नही करेगा उस समय तक डेपुटेशन पर स्कूल को चलाया जा रहा है ताकि बच्चों की पढ़ाई बाधित ना हो।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here