‘प्रगतिशील हिमाचलः स्थापना के 75 वर्ष’ समारोह की कि अध्यक्षता
जय राम ठाकुर ने लगभग 86 करोड़ रुपए की लागत से निर्मित ओछघाट नेरीपुल छैला मार्ग की टारिंग उखड़ने के मामले की जांच कराने व लोक निर्माण विभाग को सड़क निर्माण में गुणवत्ता बनाए रखने के दिए निर्देश

समाचार दृष्टि ब्यूरो/राजगढ़

हिमाचल प्रदेश के गठन के 75 वर्ष के उपलक्ष्य में ‘प्रगतिशील हिमाचलः स्थापना के 75 वर्ष’ आयोजन की श्रृंखला में आज सिरमौर जिला के पच्छाद विधानसभा क्षेत्र के रोहड़ी में एक भव्य कार्यक्रम आयोजित किया गया।

मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर ने इस अवसर पर एक विशाल जनसभा को सम्बोधित करते हुए कहा कि जन-जन के सहयोग से हिमाचल आज प्रगति के मार्ग पर अग्रसर है। उन्होंने सभी से आग्रह किया कि हिमाचल को विकास के विभिन्न मानकों पर देश का सर्वश्रेष्ठ राज्य बनाने के लिए एकजुट होकर सत्त प्रत्यनशील रहें। उन्होंने कहा कि प्रदेश के विकास का श्रेय प्रत्येक हिमाचली के परिश्रम और समर्पण को जाता है।

जय राम ठाकुर ने कहा कि विगत 75 वर्षों में सभी क्षेत्रों में हिमाचल प्रदेश का समग्र विकास हुआ है। उन्होंने कहा कि राज्य के गठन के समय प्रदेश में केवल 301 शैक्षणिक संस्थान, 88 स्वास्थ्य संस्थान और प्रति व्यक्ति आय 240 रुपये थी। उन्होंने कहा कि वर्तमान में प्रदेश में 16,124 से अधिक शैक्षणिक संस्थान और 4320 स्वास्थ्य संस्थान लोगों को उनके घर-द्वार के समीप गुणवत्तापूर्ण सुविधाएं प्रदान कर रहे हैं। प्रति व्यक्ति आय बढ़कर 2,01,854 रुपये हो गई है। उन्होंने कहा कि वर्ष 1948 में प्रदेश में सड़कों की लम्बाई 228 किलोमीटर थी जबकि वर्तमान में प्रदेश में 39,500 किलोमीटर से अधिक लम्बी सड़कें विकास को गांव-गांव तक पहुंचाने का साधन बन रही हैं।

उन्होंने कहा कि आज हिमाचल प्रदेश शिक्षा और स्वास्थ्य के क्षेत्र में देश का सर्वश्रेष्ठ राज्य है। विकास के अन्य मानकों में भी हिमाचल की उपलब्धियां बेहतरीन हैं।

मुख्यमंत्री ने कहा कि देश की स्वतन्त्रता के 75 वर्ष पूर्ण होने के साथ हिमाचल प्रदेश भी अपने गठन के 75 वर्ष मना रहा है। देश ने लम्बे संघर्ष और अनेक बलिदानों के पश्चात स्वतंत्रता प्राप्त की है और युवा पीढ़ी को भी अपने महान स्वतंत्रता सेनानियों द्वारा दिए गए बलिदानों के विषय में जागरूक करना महत्वपूर्ण है।

जय राम ठाकुर ने कहा कि पौने पांच वर्षों के दौरान प्रदेश सरकार ने राज्य का एक समान एवं सन्तुलित विकास सुनिश्चित किया है। उन्होंने कहा केंद्र और हिमाचल की डबल इंजन सरकार भविष्य में भी हिमाचल में विकास की तेज गति बरकरार रखेंगी।

जय राम ठाकुर ने कहा कि प्रदेश सरकार ने समाज के हर वर्ग के कल्याण और राज्य के हर क्षेत्र के चहुंमुखी विकास के लिए कई कल्याणकारी योजनाएं शुरू की हैं। उन्होंने कहा कि गृहिणी सुविधा योजना के तहत प्रदेश में 3.32 लाख से अधिक महिलाओं को निःशुल्क गैस कनेक्शन प्रदान किए गए हैं। घरेलू बिजली उपभोक्ताओं को 125 यूनिट बिजली निःशुल्क प्रदान की जा रही है और ग्रामीण क्षेत्रों के लोगों को मुफ्त पेयजल उपलब्ध करवाया जा रहा है।
समारोह में हिमाचल प्रदेश के 75 वर्षों के गठन पर आधारित थीम सॉन्ग प्रस्तुत किया गया और राज्य के गौरवशाली इतिहास तथा उपलब्धियों पर सूचना एवं जन सम्पर्क विभाग द्वारा निर्मित वृत्तचित्र भी प्रदर्शित किया गया।

जय राम ठाकुर ने इससे पहले पच्छाद विधानसभा क्षेत्र के लिए 91.16 करोड़ रुपए लागत की विभिन्न विकासात्मक योजनाओं की आधारशिला रखी।
उन्होंने 7.32 करोड़ रुपये की लागत के शलाणा जोहड़ी पार्वी खड्ड सड़क के स्तरोन्नयन कार्य, 4.38 करोड़ रुपये की लागत से थानाधार सड़क के लिए सम्पर्क मार्ग के स्तरोन्नयन कार्य और 3.93 करोड़ रुपये की लागत से रेहाड़ी गुसान से डौंगा फाग सड़क के स्तरोन्नयन कार्य का शिलान्यास किया।

मुख्यमन्त्री ने इस अवसर पर 7.35 करोड़ रुपये की लागत से भड़ोली से ताली भुजल सड़क के स्तरोन्नयन कार्य, 13.48 करोड़ रुपये की लागत से धामला धनेच चुखरिया सड़क के स्तरोन्नयन कार्य तथा 8.47 करोड़ रुपये की लागत से राजगढ़-यशवंतगर वाया बड़गला सड़क के स्तरोन्नयन कार्य की आधारशिला रखी। उन्होंने 9.44 करोड़ रुपये की लागत से नैना टिक्कर से दयोथल सड़क के स्तरोन्नयन कार्य, 32.26 करोड़ रुपये की लागत से मरयोग-नारग-धरयार सड़क के स्तरोन्नयन कार्य तथा 4.53 करोड़ रुपये की लागत से धबुर-बगथान सड़क के स्तरोन्नयन कार्य का शिलान्यास भी किया।

उन्होंने कहा कि पच्छाद विधानसभा क्षेत्र की विभिन्न मांगों पर उचित कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने ल्यू कुफर में राजकीय माध्यमिक विद्यालय को राजकीय उच्च पाठशाला तथा जोहला फागू में राजकीय प्राथमिक पाठशाला को राजकीय माध्यमिक पाठशाला के रूप में स्तरोन्नत करने की घोषणा की। उन्होंने राजगढ़ में छात्राओं के लिए नई राजकीय कन्या वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला खोलने की घोषणा भी की। उन्होंने कहा कि धमून हब्बन मार्ग को स्तरोन्नत किया जाएगा। उन्होंने डिब्बर में प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र के निर्माण का आश्वासन भी दिया।

जय राम ठाकुर ने कहा कि लगभग 86 करोड़ रुपए की लागत से निर्मित ओछघाट नेरीपुल छैला मार्ग की टारिंग उखड़ने के मामले की जांच की जाएगी। उन्होंने लोक निर्माण विभाग को सड़क निर्माण में गुणवत्ता बनाए रखने के निर्देश दिए।

उन्होंने कहा कि भाजपा सरकार गरीब के करीब रहकर उनके सामाजिक आर्थिक उत्थान की दिशा में कार्य कर रही है। उन्होंने लोगों से आग्रह किया कि आगामी विधानसभा चुनावों में केवल बातें करने वालों का नहीं बल्कि धरातल पर विकास करने वालों का साथ दें।

उन्होंने इस अवसर पर हिमाचल की विकास यात्रा पर आधारित विभिन्न विभागों, बोर्डों और निगमों द्वारा लगाई गई प्रदर्शनियों का उद्घाटन भी किया।
ऊर्जा मंत्री सुखराम चौधरी ने इस अवसर पर कहा कि वर्तमान सरकार के कार्यकाल में सिरमौर जिला वास्तविक रूप से विकास का सिरमौर बन कर उभरा है। उन्होंने कहा कि भारतीय जनता पार्टी की सरकार सभी क्षेत्रों का समान एवं संतुलित विकास कर रही है और विभिन्न कल्याणकारी योजनाओं के लाभ समय पर लक्षित वर्गों तक पहुंचाए जा रहे हैं।

शिमला लोकसभा क्षेत्र के सांसद एवं भाजपा प्रदेशाध्यक्ष सुरेश कश्यप ने कहा कि वर्तमान सरकार के कार्यकाल में सिरमौर जिला का अभूतपूर्व विकास सुनिश्चित हुआ है। उन्होंने पच्छाद जैसे दुर्गम भौगोलिक परिस्थितियों वाले विधानसभा क्षेत्र में विकास को गति प्रदान करने के लिए मुख्यमंत्री का आभार व्यक्त किया।

इस अवसर पर पच्छाद की विधायक रीना कश्यप ने मुख्यमंत्री तथा अन्य गणमान्य व्यक्तियों का स्वागत करते हुए कहा कि गत पौने पांच वर्षों में राज्य में अभूतपूर्व विकास हुआ है। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री ने पच्छाद विधानसभा क्षेत्र के लिए की गई सभी घोषणाएं पूर्ण की हैं।

इस अवसर पर एपीएमसी के अध्यक्ष बलदेव भंडारी, प्रदेश नागरिक आपूर्ति निगम के उपाध्यक्ष बलदेव तोमर, जिला परिषद सिरमौर की अध्यक्ष सीमा कन्याल, पंचायत समिति राजगढ़ की अध्यक्ष सरोज शर्मा, भाजपा मंडल पच्छाद के अध्यक्ष सुरेंद्र नेहरू व भाजपा एवं भाजयुमो के अन्य वरिष्ठ पदाधिकारी, उपायुक्त सिरमौर राम कुमार गौतम, पुलिस अधीक्षक ओमापति जम्वाल और वरिष्ठ अधिकारी एवं अन्य गणमान्य व्यक्ति उपस्थित थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here