जेईई एडवांस क्वालीफाई कर बेस्ट आईआईटी से कंप्यूटर इंजीनियर बनना है संस्कार का लक्ष्य,
2021 में 96.16 की परसेंटाइल के साथ ड्राप कर दिया था एनआईटी

समाचार दृष्टि ब्यूरो/सराहां

उपमंडल पच्छाद के सराहां का संस्कार जल्द ही आईआईटी में इंजीनियरिंग के गुर सीखेगा। संस्कार शर्मा ने जेईईमेंस में जबरदस्त स्कोर ही नहीं बल्कि ऑल इंडिया रैंकिंग में बेहतरीन प्रदर्शन कर क्षेत्र का नाम रोशन किया है। उन्होंने 99.46 की परसेंटाइल के साथ जेईई एडवांस के लिए क्वालीफाई किया है।

संस्कार के पिता डॉ अनिल शर्मा पच्छाद क्षेत्र के घिन्नीघाड़ क्षेत्र में साथी एनजीओ चला रहे हैं। उन्होंने ने बताया कि संस्कार ने 10वीं तक कि पढ़ाई सराहां से की जबकि जमा दो अरिहंत स्कूल नाहन से 96% अंकों के साथ पास की। हमेशा अपनी मस्ती में रहने वाले संस्कार बचपन से ही कुशाग्र बुद्धि है। क्लास में अक्सर शिक्षक उन्हें इस बात के लिए डांट दिया करते थे क्योंकि वह किसी भी सवाल का जवाब सबसे पहले दे देते थे।

संस्कार का कहना है कि अब वह जेईई एडवांस की तैयारी करेंगे। उनका लक्ष्य ही नहीं बल्कि जिद है कि वह आईआईटी से कंप्यूटर इंजीनियरिंग करेंगे। जबकि माता पिता उसे मैकेनिकल इंजीनियर बनना चाहते हैं। संस्कार ने जमा दो की पढ़ाई अरिहंत इंटरनेशनल स्कूल से की जहां उन्होंने 96 प्रतिशत अंक लेकर टॉप किया। 10वीं की बोर्ड परीक्षा में भी 94 प्रतिशत के साथ वह सराहां में सर्वश्रेष्ठ रहे थे।

बड़े भाई संकल्प शर्मा पहले ही आईआईटी मंडी से एमएससी फिजिक्स कर चुके हैं। वह वैज्ञानिक बनकर देश के लिए कुछ अलग करना चाहते हैं। पिता डॉ अनिल शर्मा मंडी जिला के जोगिंदर नगर तहसील के रहने वाले हैं। उन्होंने स्वयं भी डॉक्टरेट (पीएचडी) किया हुआ है। समाज सेवा के ध्येय के चलते उन्होंने कॉलेज लेक्चरर की जोड़ छोड़ दी थी। जबकि माता जीवन रीता सरकारी स्कूल में शिक्षक हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here