निदेशक मंडल ने कर्मचारियों को छठे वेतन आयोग के लाभ देने सहित सेवानिवृत्त कर्मचारियों की ग्रेज्युटी को 10 लाख से बढ़ाकर 20 लाख करने व 61 पदों को भरने की भी की स्वीकृति प्रदान

घर बनाने के साथ साथ अब ग्राहक फर्नीचर व अन्य उपकरणों की भी कर सकेगा खरीद

समाचार दृष्टि ब्यूरो/शिमला

हिमाचल प्रदेश राज्य सहकारी बैंक अपने ग्राहकों को घर के साथ साथ उसकी सजावट के लिए भी ऋण उपलब्ध करवाएगा। अध्यक्ष खुशी राम बालनाहटा की अध्यक्षता में हुई निदेशक मंडल की बैठक में कई महत्वपूर्ण निर्णय लिए गए।

बैंक ने अपने कर्मचारियों को छठे वेतन आयोग के लाभ देने का भी निर्णय लिया है। बैंक ने सेवानिवृत्त कर्मचारियों की ग्रेज्युटी की सीमा को 10 लाख से बढ़ाकर 20 लाख करने का भी फैसला लिया है। राज्य सहकारी बैंक ने सहायक प्रबंधक के 59 व कनिष्ठ 2 पद भरने की भी स्वीकृति प्रदान की।

बैठक में दो नई ऋण योजनाओं को भी स्वीकृति प्रदान की गई। बैंक ग्राहकों के साथ नए ऋणियों को गृह सज्जा, फर्नीचर व अन्य उपकरण की खरीद के लिए अधिकतम मूल्य 10 लाख तक की ऋण राशि उपलब्ध करवाने का प्रावधान किया गया है।

उन्होंने कहा कि अधिकतर लोग मकान का निर्माण करने के लिए बैंकों से लिए गए ऋण के साथ अपनी जमा पूंजी का पूरा इस्तेमाल कर चुके होते हैं और निर्माण के बाद उसे आवास उपयोग में लाने के लिए उनके पास शेष जमापूंजी नहीं बच पाती है। इस योजना के संचालन से बैंक ऋणियों को काफी सुविधा उपलब्ध होगी। भावी व्यवसाय विस्तारीकरण व कर्मचारियों की कमी के समाधान के लिए कई अहम फैसले लिए गए।

निदेशक मंडल ने बैंक की ओर से संचालित विभिन्न ग्राहक मैत्री ऋण योजनाओं के सरलीकरण के लिए भी अपनी स्वीकृति प्रदान की, ताकि अधिक से अधिक ग्राहक बैंक से जुड़ कर योजनाओं का लाभ उठा सकें। एनपीए प्रबंधन की ओर से अब तक उठाए गए कदमों और प्रभावी कार्यप्रणाली पर भी समस्त सदस्यों की ओर से संतोष व्यक्त किया गया।

बैठक में चालू वित्त वर्ष की कार्य प्रगति की समीक्षा भी की गई। बैठक में बोर्ड के समक्ष प्रस्तुत विभिन्न मामलों को विस्तृत चर्चा के बाद सदस्यों ने स्वीकृति प्रदान की।

इस बैठक में निदेशक मंडल के सदस्य शेर सिंह चौहान, प्रियव्रत शर्मा, पितांबर नेगी, राम गोपाल ठाकुर, प्रेम लाल सोनी, राकेश गौतम, विनय नेगी, द्रोपती ठाकुर, चंद्र भूषण नाग, विजय ठाकुर, अरविंद गुप्ता, लाज किशोर शर्मा के अलावा नाबार्ड क्षेत्रीय कार्यालय के प्रभारी एसके मिश्रा, बैंक के प्रबंध निदेशक श्रवण मांटा, महाप्रबंधक डा. आरपी नैंटा ने भाग लिया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here