गांव की होनहार बेटियां घर लौटी तो गांव वालों ने इनका ढोल नगाड़ों और फूल मालाओं से किया स्वागत, बीच हैंडबॉल इंडियन टीम की हैं लीडिंग खिलाड़ी
अंजली ठाकुर और पायल ठाकुर ग्रीस में आयोजित हुई अंतरराष्ट्रीय हैंडबॉल प्रतियोगिता में भाग लेकर लौटी अपने गाँव

जी डी शर्मा
समाचार दृष्टि ब्यूरो/ राजगढ़

ग्रीस में आयोजित हुई महिला हैंडबॉल प्रतियोगिता मैं देश का प्रतिनिधि करके अपने घर लौटी सिरमौर जिला के गिरीपार क्षेत्र के दूरदराज गांव पभार की दो बेटियों का ग्रामीणों ने जोरदार स्वागत किया। गाँव वालों ने गांव की बेटी अंजली ठाकुर और पायल ठाकुर का ढोल नगाड़ों से और फूल मालाएं पहनाकर स्वागत किया।

इस अवसर पर ग्रामीणों ने कहा कि बेटियों ने गांव ही नहीं बल्कि जिले और प्रदेश का नाम भी रोशन किया है। विदेशी धरती पर अपने खेल का लोहा मनवा कर लौटी बेटी अंजलि और पायल ने बताया कि वह भविष्य में और अच्छा खेलकर देश के लिए मेडल जीतना चाहती है और क्षेत्र और देश का नाम रोशन करना उनका लक्ष्य है।

अंजली ठाकुर और पायल ठाकुर ग्रीस में आयोजित हुई अंतरराष्ट्रीय हैंडबॉल प्रतियोगिता में भाग लेकर लौटी हैं। अंजलि और पायल बीच हैंडबॉल इंडियन टीम की लीडिंग खिलाड़ी हैं। पभार गांव की यह होनहार न सिर्फ इस क्षेत्र बल्कि हिमाचल और पूरे देश में अनोखी मिसाल बनकर उभरी है। इन बेटियों ने ऐसे खेल में देश का प्रतिनिधित्व किया है जिसका पहाड़ी क्षेत्रों में लोग नाम भी बमुश्किल जानते हैं।

बता दें कि बेहद दुर्गम गांव के परिवेश में पली-बढ़ी पायल और अंजलि आज विश्व पटल पर अपना, अपने माता-पिता, क्षेत्र हिमाचल और देश का नाम रोशन कर रही हैं। दोनों खिलाड़ी जल्द ही एशियन हैंडबॉल चैंपियनशिप में भी देश के लिए खेलेंगी। बेटियों की सफलता से सारे क्षेत्र में खुशी की लहर है। अंजलि और पायल खेलों में भविष्य आजमा रहे लड़के लड़कियों के लिए आदर्श बन कर उभरी हैं।

इन दोनों की मेहनत ने साबित कर दिया है यदि मन में कुछ करने की प्रबल इच्छा और लगन हो तो सुविधाओं की कमी या कोई भी अभाव आड़े नहीं आता। दोनों होनहार बेटियां देश के लिए मेडल जीतना चाहती हैं और खेलों में रहकर अपना भविष्य संवारना चाहती है। के लोगों को भी उम्मीद है आने वाले समय में अंजलि और पायल हर मंच पर प्रदेश और देश का नाम चमकाएंगी।

घर पहुंची खिलाड़ी अंजलि ठाकुर ने बताया कि गांव वालों का धन्यवाद करना चाहती हूं जिन्होंने हमारा जोरदार स्वागत किया और हमारा मनोबल बढ़ाया। अंजलि ने बताया भारत टीम से खेलने के बाद हम गर्व महसूस कर रही हैं।

पायल चौहान ने बताया कि भारत टीम से खेलने के हमें बहुत अच्छा लगा और हमें गर्व महसूस हो रहा है कि गांव द्वारा हमें सम्मानित किया गया।

पंचायत प्रधान ने जानकारी देते हुए बताया कि भारत टीम में खेलने के बाद हमारी बिटिया आज घर पहुंची है और गांव पहुंचने पर ग्रामीणों ने उनका जोरदार स्वागत किया है यहां हमारे लिए बहुत ही खुशी की बात है कि महिला खिलाड़ी भारत टीम से खेल रही है

https://samachardrishti.com/wp-content/uploads/2022/04/Azadi-ka-Amrit-Mahotsav_Strip_300dpi-scaled.jpg

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here